चन्द शेर-2

Standard

( १ )
राख में अब और क्या जलाने आये हैं ,
मेरे अपने मुझे फिर आजमाने आये हैं ।
( २ )
कुछ वक्त की मेहरबानी थी ,  कुछ हालात-ए-जिन्दगानी थी ,
ना जाने मैं कब और कैसे बड़ी हुई ,मुझ में भी नादानी थी ।
( ३ )
कुछ तोहफा-ए-खुदा था , कुछ अपनो ने दिया था ,
मेरा गम कैसे कहूँ बुरा था, बडे प्यार से मिला था।
( ४ )
भूल जाने से था बहत्तर, तेरा मुझसे रूठ जाना ,
जाना मुझसे दूर जाना , हाँ मगर लौट आना ।
( ५ )
उसका मेरा रिश्ता है ये ना जाने कैसा ,
सांसो की तरह उसका दिल में आना जाना ।
( ६ )
रात का मुसाफिर चदां ,  दिन को रूठ जाता है ,
तन्हाई में तो साथ देता है मैले में छुठ जाता है।
( ७ )
मैं परेशां हूँ मुझे परेशां ना करो , दोस्त मुझपे एहसान ना करो ,
लुट लो हर खुशी मेरी पर खुदा के लिये मेरा गम कम ना करो ।
( ८ )
वक्त क्यूँ इतना बेरहम निकला , ज़ख्म का मरहम दर्द का हम कदम निकला ,
दिल को तोडा जब मैंने अपने हाथ से , क्या कहूँ उसमें कितना ग़म निकला ।

6 responses »

  1. चन्द शेर-2
    ( दोस्ती, लम्हें जिन्दगी के)

    ( १ ) राख में अब और क्या जलाने आये हैं ,
    मेरे अपने मुझे फिर आजमाने आये हैं ।

    ( २ ) कुछ वक्त की मेहरबानी थी , कुछ हालात-ए-जिन्दगानी थी ,
    ना जाने मैं कब और कैसे बड़ी हुई ,मुझ में भी नादानी थी ।
    ( ३ )
    कुछ तोहफा-ए-खुदा था , कुछ अपनो ने दिया था ,
    मेरा गम कैसे कहूँ बुरा था, बडे प्यार से मिला था।
    ( ४ )
    भूल जाने से था बहत्तर, तेरा मुझसे रूठ जाना ,
    जाना मुझसे दूर जाना , हाँ मगर लौट आना ।
    ( ५ )
    उसका मेरा रिश्ता है ये ना जाने कैसा ,
    सांसो की तरह उसका दिल में आना जाना ।
    ( ६ )
    रात का मुसाफिर चदां , दिन को रूठ जाता है ,
    तन्हाई में तो साथ देता है मैले में छुठ जाता है।
    ( ७ )
    मैं परेशां हूँ मुझे परेशां ना करो , दोस्त मुझपे एहसान ना करो ,
    लुट लो हर खुशी मेरी पर खुदा के लिये मेरा गम कम ना करो ।
    ( ८ )
    वक्त क्यूँ इतना बेरहम निकला , ज़ख्म का मरहम दर्द का हम कदम निकला ,
    दिल को तोडा जब मैंने अपने हाथ से , क्या कहूँ उसमें कितना ग़म निकला ।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s